Zonal System क्षेत्रीय व्यवस्था

भारतीय जैन मिलन द्वारा शाखाओं से अधिक से अधिक सम्पर्क बनाये रखने तथा उन्हें सक्रिय, ठोस व प्रभावी बनाये रखने के लिए क्षेत्रीय व्यवस्था लागू की गयी। वर्तमान में सम्पूर्ण भारत में 19 क्षेत्र हैं।
- 1. क्षेत्रीय अध्यक्ष 2. क्षेत्रीय उपाध्यक्ष 3. क्षेत्रीय मन्त्री का मनोनयन केन्द्रीय/राष्ट्रीय पदाधिकारी द्वारा 1 वर्ष के लिये होता है, तदुपरान्त क्षेत्रीय पदाधिकारियों द्वारा मिलजुल कर क्षेत्रीय कार्यकारिणी कमैटी का गठन किया जाता है जिसके अन्तर्गत प्रत्येक 3 या 4 शाखाओं पर एक क्षेत्रीय संयोजक भी मनोनीत किया जाता है।

Sponsored see all

To know more about advertisement, please click on advertisement title, website link or thumbnail.

Perfact Match- Jain Rishtey, Post Your Matrimonial Advertisement at just Rs. 500/- yearly.
Contact : 9837048560, 9897227228, Email : matrimony@bhartiyajainmilan.com
Wall Tiles (Digital), Floor Tiles (Vetrified), Granite Marbles & All Sanitary Goods.
Mandi Sultan Ganj, BARAUT (Baghpat) U.P., Phone : 8126585900, 9837311544
TAX CONSULTANTS- Income Tax, VAT, CST, Service Tax, Tax Audits, Professional Tax, Works Contract Tax.
L-19, Vijaya Nagar, Mahal Parisar, Gwalior (M.P.), Contact No.: 0751-2623631, 0751-2324322
DHEERAJ PUBLICATIONS. Children Books Publishers.
H.O.: Agrawal Colony, Opp. Ramlila Ground, Delhi Road, Meerut (U.P.) Ph : 121-3257035, 9412083541, 9897522260, Email : kidschoicebooks@gmail.com
All kind of School Books, Nursury to Class 12th Based on C.B.S.E. & N.C.E.R.T.
Khatri Garhi, BARAUT (Baghpat) U.P. Mobile : 9837386379, 9837569347, Email : sanmatigaurav@gmail.com
see all
हम नहीं दिगम्बर, श्वेताम्बर, तेरहपंथी, स्थानकवासी, हम एक पंथ के अनुयायी, हम एक देव के विश्वासी।